छग संयुक्त मोर्चा के द्वारा प्रान्त व्यापी काम कलम बंद हड़ताल की रूप रेखा तैयार किया

 

 

छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा के द्वारा सूरजपुर जनपद कार्यालय के सभागार में आज 05 जुलाई को बैठक कर प्रांत व्यापी काम बंद हड़ताल की रूप रेखा तय की गई 

 

जिला एवं ब्लॉक स्तर पर 07 जुलाई 2023 को धरना प्रदर्शन पश्चात रैली निकालकर कलेक्टर/अनुविभागीय अधिकारी/तहसीलदार महोदय को ज्ञापन सौंपने रणनीति बनी।

 

सूरजपुर जिले में धरना रैली प्रदर्शन पश्चात ज्ञापन सौंपने ब्लॉक संयोजको के नामों की घोषणा,सभी कर्मचारी अधिकारी एकजुट

 

सूरजपुर ब्रेकिंग 

07 जुलाई को छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा के बैनर तले प्रांत व्यापी काम बंद हड़ताल कर छत्तीसगढ़ शासन के मुख्य सचिव के नाम ज्ञापन जिले के कलेक्टर तथा विभिन्न विकासखंडों में अनुविभागीय अधिकारी ,तहसीलदार महोदय को सौंपा जाएगा,इसके लिए आज जिला स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया,

बैठक में संयुक्त मोर्चा के जिला संयोजक गण एवं प्रमुख पदाधिकारी गणों सर्व श्री चन्द्रबोस सिंह सिसोदिया,अशोक उपाध्याय,शेष नारायण शर्मा, डॉ नृपेन्द्र सिंह,डॉ. राजेश पैकरा , इन्द्रसेन विश्वकर्मा , आर वी शिवहरे , महेश कुमार दोहरे,भूपेश सिंह,यादवेन्द्र दुबे, राकेश शुक्ला, विजय साहू की उपस्थिति में ब्लॉक संयोजको की घोषणा भी की गई जिसके तहत रामानुजनगर से सर्व श्री पुष्पराज सिंह,पीताम्बर सिंह,भगवान ठाकुर,विक्रम सिंह,रॉबर्ट लकड़ा,हीरा लाल यादव, प्रेमनगर से,पुनीत द्विवेदी,राम बरन सिंह,सुरेंद्र सोरी,राफेल लकड़ा,विजय साहू,कमलेश यादव,प्रवीण पावले,ओंकार सिंह, *प्रतापपुर से* राकेश मोहन मिश्रा, अनुजेश्वर पांडेय,नागेंद्र सिंह,राजकुमार सिंह,देवसाय सिंह टेकाम, श्री मती सुनीता श्रेष्ठ, देवचंद पंडो,दीपक पैकरा,*ओड़गी से* श्री राम प्रधान ,लव कुमार सिंह,बिनोद सिंह, शैलेश सिंह, हेम मिश्रा बिनोद केराम,मोहम्मद महमूद,श्याम नारायण तिवारी,शिव कुमार पैकरा,

भैयाथान से अशोक मिश्रा, जितेंद्र सिंह ,शिव प्रताप सिंह,सुरेंद्र दुबे,दलगर राजवाड़े, दिनेश कुमार ठाकुर महेश प्रजापति जितेंद्र सिंघ,मुकेश सोनी को ब्लॉक संयोजक नियुक्त किया गया है

 

 

तथा निर्धारित स्थान पर 11 बजे एकत्रित होंगे और रैली के रूप में जाकर दो बजे ज्ञापन सौपेंगे।

 

ज्ञापन के मुख्य बिंदुओं में

 

छत्तीसगढ़ प्रदेश के विभिन्न कर्मचारी संगठनों द्वारा समय-समय पर दिए गए ज्ञापन, धरना एवं आंदोलन के माध्यम से मांग किया गया था जिसमे

 

प्रमुख मांगे :-

 

1. छतवे वेतनमान के आधार पर देय गृह भाड़ा भत्ते को सातवें वेतनमान के आधार पर

केन्द्रीय दर पर पुनरीक्षित किये जाने ।

 

2. राज्य के कर्मचारियों एवं पेंशनरों को केन्द्र के समान देय तिथि से महंगाई भत्ता स्वीकृत

किये जाने 

 3. प्रदेश के कर्मचारियों की विभिन्न मांगो को लेकर गठित पिंगुआ कमेटी एवं सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव की अध्यक्षता में वेतन विसंगति हेतु गठित समिति की रिपोर्ट को सार्वजनिक किये जाने

 

4. कांग्रेस पार्टी के जन घोषणा पत्र के क्रियान्वयन हेतु राज्य के समस्त कर्मचारियों को चार

 

स्तरीय वेतनमान क्रमश: 08, 16, 24 एवं 30 वर्ष की सेवा अवधि उपरांत किये जाने

5 पुराने पेंशन का लाभ दिलाये जाने हेतु प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा गणना कर ने पेंशन का लाभ

आहर्ता दायी सेवा 33 के स्थान पर 25 वर्ष करने

 एवम

अनियमित, संविदा एवं दैनिक वेतन भोगी कर्मियों को नियमित किये जाने सम्बंधित ज्ञापन सौंपा जाएगा।

 

बैठक में ,कृष्ण कुमार सोनी,राधे श्याम साहू,पंकज गुप्ता,हलेश्वर प्रसाद गुप्ता नरेंद्र ठाकुर,मुकेश राजवाड़े,अमित चौरसिया,,महेंद्र राजवाड़े आदेश रवि, ,नंद किशोर कुशवाहा,अजीत गुप्ता,कमल किशोर पांडेय, सुरेंद्र खरे,रामचन्द ,सोनी,मनोज जायसवाल,नितिन श्रीवास्तव, मिथिलेश पाठक आदि कर्मचारी अधिकारी गण उपस्थित थे

Aashiq khan
Author: Aashiq khan

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer