वल्नेरेबिलिटी मेपिंग के संबंध में जिले के संबंधित अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

CGआजतक न्यूज

सूरजपुर अनिल साहू

सूरजपुर_आगामी विधानसभा निर्वाचन 2023 के दृष्टिगत आज मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, रायपुर  छत्तीसगढ़ द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के समस्त सेक्टर ऑफिसर, समस्त पुलिस सेक्टर ऑफिसर एवं जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर को वल्नेरेबिलिटी मेपिंग के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया। उनके द्वारा वर्नेबल मतदाता, वर्नेबल क्षेत्र एवं उसका सर्वे किस प्रकार किया जाता है के बारे में विस्तार से बताया गया। ऐसी शक्तियां जो डरा धमकाकर अपने पक्ष में मतदान करने के लिए प्रेरित करते है, उन शक्तियों को पहचान कर निर्धारित प्रारूप में रिटर्निंग ऑफिसर को भेजने के लिए कहा गया। समस्त सेक्टर ऑफिसर ऐसी वर्नेबल क्षेत्र का नियमित दौरा करे और पिछली घटना एवं इसके जिम्मेदार लोगो की पहचान कर उनके संबंध में जानकारी एकत्रित करें। इन क्षेत्रों में पिछले 01 वर्ष में गंभीर अपराधिक मामला, पिछले संसदीय एवं विधानसभा चुनाव में पंजीकृत अपराधों की संख्या, आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले, पुनर्मतदान, निषेधात्मक कानून के मामले निर्वाचन नामावली से संबंधित शिकायते, मतदान दिवस से संबंधित शिकायते, राज्य आबकारी अधिनियम में पंजीकृत केस की जानकारी आर्म्स एक्ट अंतर्गत लायसेंस धारकों की जानकारी एकत्रित करने के लिए कहा गया,  क्रिटिकल मतदान केन्द्रों का चिन्हांकन के लिए 07 बिन्दु मतदान क्षेत्र का वर्नेबल होना, 90 प्रतिशत से अधिक मतदान एवं 01 अभियर्थी के पक्ष में 75 प्रतिशत अधिक मतदान होना, 10 प्रतिशत से कम मतदान, पुनर्मतदान होना, विगत 05 वर्ष में मतदान दिवस के दिन  एफ आई आर होना, अधिक अनुपस्थित, स्थानांतरित, मृत वोटर होना, कानुन और व्यवस्था का असमान्य होना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई। ऐसे क्षेत्रों के मतदान केन्द्र वेब कास्टिंग, माइक्रो ऑब्जर्वर की नियुक्ति केन्द्रीय शसस्त्र की तैनाती के बारे में बताया गया।

anil sahu
Author: anil sahu

जिला प्रतिनिधि सूरजपुर

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer