मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किया मेडिकल कॉलेज भवन का लोकार्पण

शिक्षा, चिकित्सा हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल

सरगुजा को मिली बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की सौगात 

कुल 374.08 करोड़ की लागत से राजमाता श्रीमती देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव शासकीय मेडिकल कॉलेज, चिकित्सालय और आवासीय परिसर का निर्माण

अम्बिकापुर ब्यूरो 

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से वर्चुअली जुड़कर सरगुजा में तैयार राजमाता श्रीमती देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव शासकीय मेडिकल कॉलेज का लोकार्पण किया

तो मौके पर उपस्थित जनसमूह ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनका शानदार अभिवादन किया।

सभी ने इसे बड़ी और ऐतिहासिक उपलब्धि बताते हुए उनके प्रति आभार भी व्यक्त किया।

374.08 करोड़ की लागत से निर्मित इस परिसर में मुख्य रूप से 54.26 करोड़ रुपए की लागत से बने महाविद्यालय भवन, 120.73 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे हॉस्पिटल भवन के साथ ऑडिटोरियम, छात्रावास, स्टाफ क्वार्टर, डीन आवास सहित अन्य कार्य शामिल हैं।

यह राज्य का छठवां मेडिकल कॉलेज है। इस मेडिकल कॉलेज की खासियत है कि यहां मेडिकल स्टूडेंट्स के कौशल एवं दक्षता विकास के लिए वृहद स्किल्स लैब और बहरेपन के परीक्षण एवं ईलाज की विशेष सुविधा उपलब्ध है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य में शिक्षा और स्वास्थ्य उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में है।

मेडिकल कॉलेज से सरगुजा संभाग सहित आसपास के आदिवासी अंचलों के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

उन्होंने कहा कि यह एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि राज्य में दुर्गम क्षेत्रों तक स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने लगातार काम किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री हॉट बाजार क्लीनिक सहित अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है।

हमारी कोशिश है कि राज्य में बेहतर कार्य करते हुए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बने। उन्होंने कहा कि कोरोना के समय भी राज्य के लोगों को उपचार के साथ अन्य सुविधाएं देने में छत्तीसगढ़ की सरकार आगे थीं

। गरीब परिवारों को सस्ते दर पर दवाइयां उपलब्ध कराने राज्य में धन्वंतरि जेनेरिक मेडिकल स्टोर खोले गए हैं।

माँ का आँचल पूरे सरगुजावासियों के लिए था-

अम्बिकापुर में शासकीय मेडिकल का लोकार्पण के अवसर पर उपमुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री टी एस सिंहदेव ने कहा कि मेडिकल कॉलेज का नामकरण मम्मी के नाम पर किया गया है।

राजमाता श्रीमती देवेंद्र कुमारी सिंहदेव की स्मृति में यह बड़ी सौगात दी गयी है।

इसके लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का बड़ा योगदान है। ममतामयी माँ के सम्मान के लिए वे आभार जताते हैं। उन्होंने कहा कि मम्मी सिर्फ उनकी ही नहीं थीं, उनका आँचल पूरे सरगुजावासियों के लिए था।

वह बड़ी ममता और प्रेमभाव से सरगुजा को देखती थी। छोटे से छोटे कार्यों के लिए मुख्यमंत्री तक जाने में संकोच नहीं करती थी।

उपमुख्यमंत्री श्री सिंहदेव ने जिले को मेडिकल कॉलेज की सौगात देने और इसमें सहयोग के लिए सभी का आभार भी जताया।

जिले में मेडिकल कॉलेज लोकार्पण कार्यक्रम स्थल पर खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत उपस्थित रहे।

उन्होंने फीता काटकर मेडिकल कॉलेज का औपचारिक शुभारंभ किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज से सभी को सहूलियतें मिलेंगी।

जटिल से जटिल केस का उपचार यहाँ सम्भव हो पाएगा। स्वास्थ्य के क्षेत्र में यह मेडिकल कॉलेज एक नई और बड़ी उपलब्धि है।

इससे जिले एवं अंचल की दिशा और दशा बदल जाएगी। इस दौरान संसदीय सचिव एवं सामरी विधायक श्री चिंतामणि महाराज, सीजीएमएससी अध्यक्ष एवं विधायक लुण्ड्रा डॉ प्रीतम राम, चंद्रपुर विधायक श्री रामकुमार यादव, छत्तीसगढ़ आदिवासी स्थानीय स्वास्थ्य परंपरा एवं वनौषधि पादप बोर्ड के अध्यक्ष श्री बालकृष्ण पाठक, श्रम कल्याण मंडल के अध्यक्ष श्री शफी अहमद उपस्थित रहे।

सरगुजा के कार्यक्रम स्थल से जिला उपाध्यक्ष श्री आदित्येश्वर शरण सिंह ने भी मेडिकल कॉलेज का नामकरण दादी के नाम पर किए जाने पर मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा विभाग के सचिव श्री पी दयानंद ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

सरगुजा संभागायुक्त श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी ने कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शन किया।

अनेक सुविधाओं से लैस है मेडिकल कॉलेज-

374.08 करोड़ की लागत से निर्मित इस परिसर में मुख्य रूप से 54.26 करोड़ रुपए की लागत से बने महाविद्यालय भवन, 120.73 करोड़ रुपए की लागत से बने हॉस्पिटल भवन के साथ ऑडिटोरियम, छात्रावास, स्टाफ क्वार्टर, डीन आवास सहित अन्य कार्य शामिल है। यह राज्य का छठवां मेडिकल कॉलेज है।

इस मेडिकल कॉलेज की खासियत है कि यहां मेडिकल स्टूडेंट्स के कौशल एवं दक्षता विकास के लिए वृहद स्किल्स लैब और बहरेपन के परीक्षण एवं ईलाज की विशेष सुविधा उपलब्ध है।

मेडिकल कॉलेज के नवीन महाविद्यालयीन भवन में कुल 07 विभाग संचालित होंगे।

जिनमें एनाटॉमी विभाग, बायोकेमेस्ट्री विभाग, फिजियोलॉजी विभाग, कम्यूनिटी मेडिसीन विभाग, फोरेंसिक मेडिसीन विभाग, माइक्रोबायोलॉजी विभाग, फार्माकोलॉजी विभाग विद्यार्थियों को प्रशिक्षण दिया जाता है।

यहाँ पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों को सुविधाजनक प्रशिक्षण की पूरी व्यवस्था है।

इस अवसर पर आईजी श्री रामगोपाल गर्ग, कलेक्टर श्री कुन्दन कुमार, एसपी श्री सुनील शर्मा, मेडिकल कॉलेज के डीन श्री रमेशनन मूर्ती, तेलघानी बोर्ड के सदस्य श्री लक्ष्मी गुप्ता, खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण बोर्ड के सदस्य श्री अभिषेक सिंह, जिला पंचायत सरगुजा सदस्य श्री राकेश गुप्ता, एमआईसी सदस्य श्री द्वितेंद्र मिश्र, सहित निर्वाचित जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, मेडिकल कॉलेज के शिक्षकगण, बड़ी संख्या में मेडिकल कॉलेज के छात्र-छात्राएं और आम नागरिकगण उपस्थित रहे।

 

Aashiq khan
Author: Aashiq khan

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer