बिलासपुर पुलिस द्वारा चलाया जा रहा निजात अभियान की प्रसंशा चारो तरफ हो रहा है

बिलासपुर पुलिस का निजात अभियान चारो तरफ हो रही प्रशंसा।

 

बिलासपुर निजात अभियान से जागरूकता के साथ नशा करने वाले एवम बेचने वाले दोनो में मचा हड़कंप

 

बिलासपुर में निजात से जागरूकता बढ़ी,नशा के कारोबार में लगा अंकुश।

 

बिलासपुर में निजात अभियान में सामाजिक संगठन,व्यापारी संगठन,युवा वर्ग बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं।

 

बिलासपुर में निजात से जागरूकता बढ़ी,नशा के कारोबार में लगा अंकुश।

 

बिलासपुर एस.पी.संतोष सिंह निजात को लेकर गंभीर 

 

बिलासपुर:–ब्यूरो राजेश शंकर दास 

बिलासपुर पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह का एक विशेष अभियान जहा पदस्थ होते हैं वहा पर वो निजात अभियान चलाते है उनकी सोच बिल्कुल भी अलग है,युवा नशा से बचेगा तो देश आगे बढ़ेगा।

             आज देश में नशा का शिकार सबसे अधिक कोई है तो वो युवा वर्ग ही है इन्ही सब को ध्यान में रख आई पी एस संतोष सिंह ने इस अभियान को बड़ी गंभीरता से लिया और आज बिलासपुर में नशा के खिलाफ आम जन ही नही सामाजिक संगठन,एनजीओ,व्यापारी संगठन,युवा संगठन सभी इस निजात अभियान को सफल बनाने में एक जुटता के साथ कार्य कर रहे हैं इसका प्रभाव इसी बात से लगाया जा सकता है कि यूवाओ में जागरूकता आ रही है नशे से निजात पाने के लिए आगे आने लगे हे,इसके अलवा नशा कारोबार करने वाले पर आए दिन बड़ी कार्यवाही हो रही हे जिससे नशा कारोबारी के साथ नशा करने वालो में हड़कंप मचा हुआ है।

 

लीडरशिप इन क्राइम प्रिवेंशन’ कैटेगरी में अमेरिका के प्रतिष्ठित आईएसीपी 2022 अवार्ड के लिए चयन हुआ था

 

बिलासपुर पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह जब राजनादगांव प्रभार में थे उस समय नशा का कारोबार वहा फल फूल रहा था उन्होंने निजात अभियान चला कर अंकुश लगाने का कार्य किया जिसकी सराहना पूरे प्रदेश में हुई थी,छत्तीसगढ की राजनांदगांव पुलिस के नशा-विरोधी, निजात अभियान को संस्थागत श्रेणी के ‘लीडरशिप इन क्राइम प्रिवेंशन’ कैटेगरी में अमेरिका के प्रतिष्ठित आईएसीपी 2022 अवार्ड के लिए चयन हुआ है. यह अभियान तत्कालीन पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के कार्यकाल में शुरू किया गया था. आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी में बताया गया है कि अमेरिका की अंतरराष्ट्रीय संस्था इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ चीफ्स ऑफ पुलिस (आईएसीपी) द्वारा तत्कालीन पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव संतोष सिंह के कार्यकाल के दौरान राजनांदगांव पुलिस द्वारा चलाए गए नशा-विरोधी, निजात अभियान को संस्थागत श्रेणी के ‘लीडरशिप इन क्राइम प्रिवेंशन’ कैटेगरी में अमेरिका के प्रतिष्ठित आईएसीपी अवार्ड हेतु चुना गया था।

Aashiq khan
Author: Aashiq khan

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer