प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना अंतर्गत कलेक्टर के निर्देश पर शिविर के माध्यम से शुरू हुई किसानों की ई केवाईसी, आधार एवं भूमि सीडिंग की प्रक्रिया

अम्बिकापुर ब्यूरो 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को योजना का लाभ दिलाने हेतु कलेक्टर श्री कुंदन कुमार के मार्गदर्शन में जिले में शिविर आयोजित कर शत प्रतिशत लक्ष्य हासिल करने की पहल की जा रही है। शासन द्वारा योजना की 14वीं किश्त के लिए ईकेवायसी, आधार सीडिंग एवं भूमि (लैण्ड) सीडिंग को अनिवार्य किया गया है। इस हेतु गत शनिवार से शिविर के माध्यम से किसानों का लाभ दिलाया जा रहा है। शिविर के दो ही दिन में कुल 3000 से ज्यादा किसानों का ईकेवायसी की प्रक्रिया की गई। इनमें विभिन्न स्तरों पर परीक्षण करते हुए समस्त प्रक्रिया की जा रही है। ई केवाईसी के साथ ही 1744 किसानों का आधार सीडिंग तथा 759 किसानों का लैंड सीडिंग किया गया।

कृषि विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में कुल 4468 कृषकों का ईकेवायसी, 3140 कृषकों का आधार सीडिंग तथा 1221 किसानों का लैंड सीडिंग किया जाना है। आधार सीडिंग का कार्य संबंधित बैंकों के बैंक खाते में आधार अपडेट कराने के बाद डीबीटी इनेबल कराने के बाद पूर्ण होता है। इसी प्रकार लैण्ड सीडिंग हेतु कृषक अपने बेनिफिसरी स्टेटस में लैण्ड सीडिंग नंबर दिखने पर क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एवं कार्यालय वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी में अपने बी-1 के साथ आवश्यक दस्तावेज जमा करने पर लैण्ड सीडिंग का कार्य कृषि विभाग द्वारा संचालनालय कृषि रायपुर से एनआईसी पोर्टल में अपलोड करने के बाद लैण्ड सीडिंग का कार्य पूर्ण होता है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए ईकेवायसी, आधार सीडिंग एवं लैण्ड सीडिंग कराना अनिवार्य है।

उल्लेखनीय है कि योजनांतर्गत सभी वर्ग एवं श्रेणी के किसानों को लाभान्वित किया जाता है। पात्र किसानों को प्रतिवर्ष छह हजार रूपए, दो-दो हजार की तीन किस्तों में प्रदाय किया जाता है। योजनांतर्गत अद्यतन कुल 13 किस्तें जारी की जा चुकी हैं। भारत सरकार से प्राप्त निर्देशानुसार पंजीकृत समस्त पात्र हितग्राहियों को आगामी किस्त प्राप्त करने हेतु अपने बैंक खातों का आधार सीडिंग और लैंड सीडिंग करवाना अनिवार्य है।

Aashiq khan
Author: Aashiq khan

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer