रसोई में जाकर लिया जायजा, नल की पानी को पीकर लिया स्वाद, सीधे बच्चों से पूछे समस्या

CG आजतक न्यूज़

कोरिया नीरज साहू

कोरिया _कलेक्टर श्री विनय कुमार लंगेह ने आज आदर्श बालक छात्रावास, जमनीपारा तथा प्री. मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास, पटना का औचक निरीक्षण करते हुए वहां के छात्र-छात्राओं से विभिन्न समस्याओं के बारे में जानकारी ली। निरीक्षण करते हुए सीधे बच्चों से जानकारी लेते हुए कक्षा आठवी के छात्र शिवकुमार से पूछा कि यहाँ मच्छरदानी है? बिस्तर साफ होते हैं? भोजन समय पर और ताजा मिलती है? छात्र ने बहुत ही आत्मविश्वास के साथ कलेक्टर को बताया कि ये सभी चीजें समय पर मिल जाती है। कोई परेशानी नहीं है। एक अन्य छात्र से सवाल करते हुए कलेक्टर लंगेह ने जानना चाहा कि यहाँ खेल सामग्री मिलती है कि नहीं, खेलने जाते हो कि नहीं छात्र ने बताया कि हम लोग क्रिकेट, बॉलीबाल खेलते हैं साथ ही क्रिकेट, बालीबाल और फुटबाल के सामान भी मिल जाता है।

कलेक्टर ने नल की पानी का लिया स्वाद-
लगातार बारिश होने की वजह से पानी प्रदूषित होने की आशंका बनी होती है। अधीक्षक से जानकारी लेने पर तत्काल नल के पानी को हाथ में लेकर स्वाद लिया और उन्होंने संतोष व्यक्त करते हुए निर्देश दिए कि किसी भी हालत में प्रदूषित पानी का सेवन न किया जाए। क्लोरिन दवाई और साफ-सफाई का विशेष रखने के निर्देश भी दिए।

किचन में जाकर खाद्य व अनाज का किया निरीक्षण-
श्री लंगेह ने रसोईघर में जाकर खाद्य सामग्री को व्यवस्थित रखने के निर्देश दिए। सब्जियों को सूखे स्थान पर रखने, पानी से अच्छी तरह से साफ-सुथरा करके सब्जी बनाने के निर्देश भी दिए।
डॉक्टर-पुलिस बनूंगी- कलेक्टर लंगेह ने प्री. महिला छात्रावास में रहने वाली कुमारी सालनी से पूछा कि बड़े होकर क्या बनोगी तो तपाक जवाब देते हुए बोली कि मैं बड़े होकर डॉक्टर बनूंगी वहीं कक्षा दसवीं में अध्ययनरत कुमारी फुलेश्वरी ने बड़े होकर पुलिस ऑफिसर बनने की बात कही। इस पर कलेक्टर श्री लंगेह ने छात्र-छात्राओं को उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि पेन-पुस्तक की ताकत बहुत होती है, ऐसे में आप लोग खूब मन लगाकर पढ़ाई करें निश्चित ही एक दिन पुलिस, डॉक्टर, कलेक्टर जरूर बनोगी।

रजिस्टर पंजी का किया पड़ताल-
कलेक्टर विनय कुमार लंगेह ने पंजी रजिस्टर को पड़ताल करते हुए अधीक्षक को निर्देश देते हुए कहा कि बच्चों से मिलने का एक निश्चित समय-सीमा तय करें तथा माता-पिता को ही बच्चां से मिलने दिया जाएं अन्य किसी भी अनाधिकृत व्यक्तियों को छात्रावास में नहीं आने की मनाही की। सीसीटीवी, सुरक्षा कर्मचारी तथा शौचालय के संबंध में अधीक्षक से जानकारी लेते कहा कि किसी भी हालत में कोई अनाधिकृत व्यक्ति छात्रावास में न आए तथा शुद्ध पेयजल तथा शौचालय को साफ-सुथरा रखने की हिदायत भी दी। औचक निरीक्षण के समय एसडीएम, सहायक आयुक्त प्रभारी श्रीमती अंकिता सोम तथा संबंधित कर्मचारी भी उपस्थित थे।

neeraj kumar sahu
Author: neeraj kumar sahu

जिला प्रतिनिधि कोरिया

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer