आवारा तत्व शराबियों द्वारा सड़क मार्ग मे खाली बोतल तोड़ दिया जाता हैं राहगीरों की परेशानी बढ़ गई

हुड़दंग लम्पट शराबियों से हजारों ग्रामीण परेशान

 

CG आजतक  न्यूज़

बलरामपुर: ब्यूरो

 

बलरामपुर में संचालित सरकारी शराब दुकान सिंदुर रोड में सिंदुर नदी के पास संचालित होता है, जहां से पश्चिमी ग्रामीण क्षेत्रों का वन एरिया शुरू हो जाता है। बलरामपुर के जिस रोड पर सरकारी शराब दुकान संचालित है वो पश्चिमी ग्रामीण क्षेत्रों सोनहरा, शंकरपुर, गिरवरगंज, बसेरा, कपिल देव पुर, खोभी चलगली से होते हुए वाड्रफनगर प्रेमनगर के साथ साथ उत्तर प्रदेश एवं मध्यप्रदेश का सीमा जुड़ा हुआ है। 

 

हर रोज सैकड़ों ग्रामीणों का इस मार्ग से होकर अपने बलरामपुर जिले में इलाज के लिए खरीददारी के लिए और भी कई कारणों से आना जाना लगा रहता है।

और वही बलरामपुर क्षेत्र के मनचले चम्पट शराबियों के द्वारा बलरामपुर शराब दुकान से लेकर सोनहरा रोड में आठ दस किलोमीटर दूर तक दोनों तरफ के जंगलों में बैठकर शराब पिया जाता है

, और शराब पीने के बाद बचे बोतलों को वहीं जंगलों में और सोनहरा जाने वाले सड़क पर सैकड़ों जगह शराबियों द्वारा फोड़ा बोतल मिलता है।

 

अब वही इस मार्ग पर चलने वाले ग्रामीणों को हर रोज इस सड़क पर परेशानी उठाना पड़ जाता है,

कभी कभी मोटरसाइकिल सवार जो अपने परिवारों के साथ यात्रा करते हैं उनके मोटरसाइकिल के साथ अन्य वाहनों के टायर पंचर हो जाते हैं

, साम के समय रात्रि के समय महिलाओं के साथ यात्रा करने वाले यात्री बहुत ज्यादा परेशान होते आ रहे हैं।

जंगली जानवरों के साथ साथ चोरी डकैती की भी संभावनाएं बनी रहती है।

 

इन समस्याओं से तंग आकर ग्रामीणों ने मीडिया माध्यमों के जरिए शासन प्रशासन को अवगत करना चाहा है,

कि इस समस्या पर तत्काल एक्शन लें, और सिंदुर रोड में बलरामपुर से लेकर सोनहरा तक पेट्रोलिंग वाहन के जरिए इन हुड़दंगियों पर नकेल कसें

, अगर इस गंभीर मुद्दे पर इस गंभीर समस्या पर संबंधित कार्यालय और संबंधित अधिकारी अगर संज्ञान लेकर कार्यावाही नहीं करते हैं तो

18/08/2023 दिन शुक्रवार को पश्चिमी ग्रामीण क्षेत्रों के सैकड़ों ग्रामीण बलरामपुर शराब दुकान एवं कलेक्टोरेट का घेराव करेंगे।

 

वहीं सड़क पर बिखरे हुए कांच के टुकड़ों को कुछ ग्रामीणों ने झाड़ियों से झाड़कर सड़क को साफ किए।

 

मीडिया के माध्यम से उक्त ग्रामीणों ने इस समस्या को उजागर किया है।

विजय यादव शंकरपुर, उदय यादव सोनहरा, अनुमेश यादव घुघरा, कृपानारायण यादव शंकरपुर, राजेश घुघरा, अजय यादव शंकरपुर, रामसुरत सोनहरा, विनय यादव सोनहरा, कृष्णा चेरवा सोनहरा, मोटू चेरवा सोनहरा, बिशेख बसेरा कला, रामकिशुन बसेराकला, संजय यादव शंकरपुर, गणेश यादव, राजु, लल्लू यादव, कुम्भकरण चेरवा, रामाशीष, ईश्वर यादव, भागवत यादव, करमदयाल रक्सेल एवं अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

Aashiq khan
Author: Aashiq khan

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer