खाद्य एवं औषधि प्रशासन की अपील, फूड पार्सल करने, खाद्य पदार्थ को लाने, ले जाने में अखबारी कागज का ना करें उपयोग, स्वास्थ्य के लिए है हानिकारक

अम्बिकापुरब्यूरो 

समाचार पत्र दैनिक जीवन में सूचना के महत्वपूर्ण स्रोत हैं। न्यूनतम लागत होने के कारण खाद्य पदार्थों को लाने, ले जाने के लिए अक्सर छपाई के लिए उपयोग किए जाने वाले अखबारी कागज, पेपर का उपयोग किया जाता है। फूड पार्सल लाने के लिए आमतौर पर फूड्स को अखबार में लपेटा जाता है, जिसका इस्तेमाल ज्यादातर स्ट्रीट फूड के लिए किया जाता है।

विक्रेता भोजन पैक करने के लिए और घर पर भी गहरे तले हुए भोजन से अतिरिक्त तेल निकालने के लिये अक्सर छपाई के लिए उपयोग किए जाने वाले अखबारी कागज, पेपर का उपयोग किया जाता है।

इससे होने वाली के संबंध में जानकारी देते हुए खाद्य एवं औषधि विभाग के खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि पर्यावरणीय परिस्थितियों से भोजन को संदूषण से बचाने के लिए खाद्य पैकेजिंग आवश्यक है, लेकिन अखबार के उपयोग किए जाने से भोजन में स्याही का स्थानांतरण होता है, जो भोजन की गुणवत्ता और सुरक्षा को प्रभावित करता है।

यह मानव स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। अखबार, पेपर को प्रिंट करने के लिए उपयोग की जाने वाली स्याही में हानिकारक रसायन एवं कई तरह के हानिकारक रंजक होते हैं,

जो तेल के साथ मिल जाते है और खाने के जरिये हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं जिससे हमारे शरीर में पाचन संबंधी विकार, टॉक्सिसिटी, विभिन्न कैंसर, महत्वपूर्ण अंगों की विफलता तथा प्रतिरक्षा तंत्र का कमजोर होना जैसे विभिन्न प्रकार की बीमारियां होने की संभावना रहती है।

उन्होंने आमजन एवं खाद्य कारबार कर्ताओं से अपील की है कि खाने के स्टॉल से खाने-पीने की चीजें लेने-देने के लिए छपाई के लिए उपयोग किए जाने वाले अखबारी कागज या पेपर का उपयोग ना करें और यदि कोई खाद्य कारोबारकर्ता ऐसा करता है तो उन्हें इसके दुष्प्रभाव की जानकारी दें।

उससे होने वाले नुकसान के बारे में बताएं और उसे ऐसा न करने की सलाह दें

। यदि कोई खाद्य कारबारकर्ता बार बार समझाइश के बाद भी न माने तो खाद्य एवं औषधि प्रशासन के उपसंचालक कार्यालय को सूचित कर सकते हैं।

Aashiq khan
Author: Aashiq khan

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer