राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को एमसीसी व चुनाव आयोग के दिशा निर्देश की दी गई जानकारी

सूरजपुर अनिल साहू 23 सितंबरआगामी विधानसभा निर्वाचन 2023 हेतु आदर्श आचरण संहिता (एमसीसी) के संबंध में सर्व मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल के प्रतिनिधि व सदस्यों के साथ कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर श्री संजय अग्रवाल की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई थी। इसी अवसर पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने उपस्थित जनों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग कुछ नियम बनाता है, इन्हीं नियमों को आदर्श आचरण संहिता कहा जाता है। जिसका पालन चुनाव के दौरान सभी को करना है।
आचार संहिता लागू होते ही शासन और प्रशासन में कई अहम बदलाव हो जाते हैं तथा इसके साथ ही आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करने पर चुनाव आयोग की क्या-क्या भूमिका हो सकती है इन बिंदुओं पर उन्होंने विस्तार से चर्चा की। जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा उपस्थित जनों को अवगत कराया गया कि एमसीसी के कुशल प्रवर्तन के लिए कोई तंत्र स्थापित किए गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने उपस्थित जनों को मीडिया प्रमाणन के बारे में जानकारी दी ताकि इसकी बारीकियों को समझ कर वो तय नियमों के अधीन अपने प्रचार प्रसार का कार्य करें।

आदर्श आचार संहिता की मुख्य विशेषताएं-
आदर्श आचार संहिता की मुख्य विशेषताएं निर्धारित करती हैं कि राजनीतिक दलों, निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों और सत्ताधारी दलों को निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान कैसा व्यवहार करना चाहिए अर्थात् निर्वाचन प्रक्रिया, बैठकें आयोजित करने, शोभायात्राओं, मतदान दिवस गतिविधियों तथा सत्ताधारी दल के कामकाज इत्यादि के दौरान उनका सामान्य आचरण कैसा होगा।

       बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती नयनतारा सिंह तोमर, उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुश्री प्रियंका वर्मा, संयुक्त कलेक्टर श्री नरेन्द्र पैकरा, एसडीएम श्री रवि सिंह, श्रीमती दीपिका नेताम व सर्व मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल के प्रतिनिधि व सदस्य उपस्थित थे।

anil sahu
Author: anil sahu

जिला प्रतिनिधि सूरजपुर

क्या गुजरात में आप की मौजूदगी से भाजपा को फायदा मिला?
  • Add your answer